दोस्तों sochanahitha.com पर आज आपको एक नयी सोच देनी वाला तरीका बताने जा रहा हु अगर आप इस बात को अमल में लाएंगे तो निश्चित रूप से आपका जीवन बदल जायेगा और आप नयी उचाईयो को छूने लगेंगे
दोस्तों आज तक आपने यही पढ़ा और सीखा होगा की,
“अपनी बुराईयो को पहचानो और उन्हें दूर करो”
दोस्तों आज से आप इस नए मंत्र को अपनाइए, फिर देखो आपके जीवन में आपकी तरक्की के रास्ते खुल जायेंगे वह नया मंत्र हे:
” अपनी अच्छाईयो को पहचानो और उन्हें बढ़ाओ”
दोस्तों जब आप जीवन में यह मंत्र अपना लोगो तो आपकी अच्छाईया बढ़ाने लगेगी और जब अच्छाईया बढ़ाने लगेगी तो बुराईया अपने आप कम हो जाएँगी और आप जीवन में ओ पा सकोगे जो कभी आपने सोचा भी नहीं होगा.
जरा सोचिये अगर सचिन तेंदुलकर अपनी बुराईए खोजने में लग जाते तो क्या ओ अपनी काबिलियत को पहचान पाते ? और क्या ओ आज इस मुकाम तक पहुंच पाते?