“हर रोज इतना काम अवश्य करो की

अगर शाम को मौत भी आ जाये,

तो हमें यह गम न हो की

हमने आज तक की जिंदगी में कुछ नहीं किया”

पवन मंडलोई